Trending

जिग्नेश मेवाणी की गिरफ्तारी

जिग्नेश मेवाणी की गिरफ्तारी

दलित नेता जिग्नेश मेवाणी की गिरफ्तारी की आवाज को दबाने की कोशिश – हारुन यूसूफ

जिग्नेश मेवाणी की गिरफ्तारी

जिग्नेश मेवाणी की गिरफ्तारी
कांग्रेस प्रेसवार्ता डीपीसीसी

भाजपा और आम आदमी पार्टी विपक्षी नेताओं की आवाज दबाने में एक समान, दोनो सरकारें कर रही हैं पुलिस का इस्तेमाल । – राजेश लिलौठिया

जिग्नेश मेवाणी की गिरफ्तारी

नई दिल्ली, 25 अप्रैल, 2022 – (अर्श न्यूज़) -दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय राजीव भवन में दिल्ली में पूर्व सीएलपी नेता श्री हारुन यूसूफ और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के एस.सी. विभाग के चैयरमेन श्री राजेश लिलौठिया ने संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित किया, जिसमें कम्युनिकेशन विभाग के वाईस चैयरमेन श्री परवेज आलम और श्री अनुज आत्रेय भी मौजूद थे।

जिग्नेश मेवाणी की गिरफ्तारी

संवाददाताओं को सम्बोधित करते हुए श्री हारुन यूसूफ ने कहा कि भाजपा के तानाशाह प्रशासन में देश भर में विपक्षी राजनीतिक दलों के लोगों को मोदी के खिलाफ अभिव्यक्ति की आजादी नही है, यदि कोई आवाज उठाता है तो भाजपा की केन्द्र सरकार उसके खिलाफ बदले की भावना के तहत कार्यवाही करती है, जो अफसोस जनक है। भाजपा ने मोदी के प्रधानमंत्रीत्व में देश को ‘‘पुलिस राज्य’’ बना दिया है। उन्होंने कहा कि गुजरात के दलित विधायक जग्नेश मेवाणी द्वारा मोदी के खिलाफ ’’गोडसे भक्त’’ लिखकर ट्वीट करने पर ही असम पुलिस ने मेवाणी को आधी रात को गुजरात से गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने कहा कि कोर्ट की भावना जिग्नेश को बेल देने की है लेकिन राज्य सरकार दलितों की आवाज को दबाने के लिए पुनः उन पर दूसरे मुकद्में लगाकर जेल में डाल रही है।

भाजपा की राह पर चलते हुए अरविन्द केजरीवाल की शह पर पंजाब सरकार दिल्ली की पूर्व विधायक अल्का लाम्बा को पंजाब में कोर्ट में हाजिर होने का नोटिस देती है और यही बदले की भावना वाली प्रक्रिया के तहत कुमार विश्वास को भी नोटिस भेजा जाता है। कांग्रेस पार्टी सत्ताधारी पार्टियों की बदले की भावना से की गई कार्यवाही की निंदा करती है। उन्होंने कहा आम आदमी पार्टी भाजपा की बी-टीम के रुप में काम कर रही है, जो देश के लिए ठीक नही है।

श्री हारुन यूसूफ ने कहा कि भाजपा की मोदी सरकार ने कुछ वर्षों के शासन में ही प्रजातंत्र को खत्म करने की शुरुआत कर दी है और डा0 अम्बेडकर द्वारा देशवासियों के हितों के लिए बनाए गए संविधान में लगातार बदलाव करके लोगों के अधिकारों को हनन कर रही है। उन्होंने कहा कि सत्ताधारी पार्टी प्रशासनिक ताकत का दुरुपयोग करके विपक्ष की आवाज को दबाने का काम कर रही और विरोधी आवाज उठाने वालों को जेल भेज रही है। श्री यूसूफ ने कहा कि लोगों के अधिकारों की लड़ाई लड़ना कांग्रेस पार्टी को विरासत में मिला है, लोकतंत्र को हानि पहुॅचाने वालों के खिलाफ चुप नही बैठेंगे और अगर सत्ताधारी पार्टियों की यही कार्यवाही चलती रही तो कांग्रेस पार्टी इनके खिलाफ एक बड़ा आंदोलन दिल्ली में करेगी।

श्री राजेश लिलौठिया ने कहा कि मोदी सरकार तानाशाह शासन चला रही है, गुजरात दलित विधायक जिग्नेश मेवाणी का मोदी के खिलाफ ट्वीट करने गिरफ्तार किया जाना इसका जीता जागता उदाहरण है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे गोडसे को भाजपा नेता भगवान मानते है और अगर कोई इस पर कुछ अभिव्यक्ति करता है तो मोदी सरकार उसके खिलाफ बदले की भावना से कार्यवाही सरकारी तंत्र का पूरा प्रयोग कर रही है। उन्होंने कहा कि दलितों की आवाज उठाने वाले लोगों को प्रताड़ित करने की प्रक्रिया में मोदी सरकार ने 8 वर्षों में दलितों के विकास और उनके अधिकारां की रक्षा करने के लिए कुछ भी नही किया है।

श्री लिलौठिया ने कहा कि यदि भाजपा नेता, प्रधानमंत्री, भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर, साक्षी महाराज यह कहते है कि हमारा गोडसे से कोई प्रेम भक्त नही है तो वह एक संवाददाता सम्मेलन करके सिर्फ ‘‘गोडसे मुर्दाबाद’’ कह दें। देशवासियों को भाजपा की सोच, विचारधारा और देशवासियों के प्रति सहानूभूति दिख जाएगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर मीडिया/पत्रकारों की बोलने की आजादी उन्हें टॉर्चर करके खत्म कर रही है। उन्होंने कहा भाजपा और आम आदमी पार्टी दलित विरोधी है।

 

Live Share Market

विडिओ  न्यूज जरूर देखे 

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close