Trending

नॉलेज शेयरिंग एग्रीमेंट

नॉलेज शेयरिंग एग्रीमेंट

पंजाब और दिल्ली की सरकारों के बीच “नॉलेज शेयरिंग एग्रीमेंट” पंजाब सरकार को केजरीवाल द्वारा रिमोट कंट्रोल से असंवैधानिक रुप से चलाने तरीका है।- चौ0 अनिल कुमार

नॉलेज शेयरिंग एग्रीमेंट

नई दिल्ली, 26 अप्रैल, 2022 –  (अर्श न्यूज़) – दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली से पंजाब चलाने के लिए नॉलेज शेयरिंग एग्रीमेंट पर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के साथ हस्ताक्षर किए है। जो एक असंवैधानिक एग्रीमेंट है। इससे पहले केजरीवाल द्वारा पंजाब के अधिकारियों को बुलाकर मीटिंग लेने का विरोध हुआ था इसलिए पंजाब सरकार चलाने की औपचारिकताओं को पूरा करने के लिए एग्रीमेंट किया है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल दिल्लीवालों के प्रति अपनी जिम्मेदारियों को नजरअंदाज करके पंजाब सरकार दिल्ली से चला रहे है।

नॉलेज शेयरिंग एग्रीमेंट

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली और पंजाब की दोनों सरकारों के नॉलेज शेयरिंग एग्रीमेंट द्वारा अधिकारियों, मंत्रियों और अन्य कर्मियों को सार्वजनिक कल्याण और ज्ञान, अनुभव और कौशल को सीखने के लिए जानकारी व नॉलेज साझा की जाएगी। यह एग्रीमेंट दो राज्यों के संवैधानिक अधिकारों के अनुसार कानूनी रुप से लागू करने योग्य नहीं है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि शिक्षा का विकास करने के नाम पर केजरीवाल और भाजपा दोनो शिक्षा के महत्व को ही खत्म करने का काम कर रहे हैं। भाजपा की मोदी सरकार आए दिन शिक्षा पाठ्क्रमों से इतिहास और संस्कृति से जुड़े अध्यायों को हटाकर शिक्षा व्यवस्था को कमजोर करके दूसरी धुरी की ओर ले जा रही है जिस पर केजरीवाल पूरी तरह चुप्पी साधे हुए है, जबकि वे शिक्षा स्तर को बेहतर बनाने का अलाप रागते है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल का यह कहना कि हमारा लक्ष्य एक दूसरे से सीखकर आगे बढ़ना है पूरी तरह से गलत है, क्योंकि दिल्ली के सरकारी विद्यालयों की जो तस्वीर दिखाई जा रही है उसकी वास्तविकता कुछ ओर ही है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि केजरीवाल की झूठ की राजनीति का अनुसरण पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान भी कर रहे है, उन्होंने भी जनता से जुड़े शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली को प्राथमिकता से रखने की बात कर रहे है जबकि पंजाब में पिछली कांग्रेस सरकार के समय से ही शिक्षा, स्वास्थ्य व बिजली व्यवस्थाऐं दुरस्त है, भगवंत मान उन्हें सिर्फ केजरीवाल का चोला पहनाने की कोशिश कर रहे है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के चुनिंदा मौहल्ला क्लीनिक को अगर छोड़ दे तो मौहल्ला क्लीनिकों की हालत खस्ता है। अब पंजाब में मौहल्ला क्लीनिक खोलकर भंगवत मान आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को सरकार की तरफ से निजी लाभ पहुचाने की पहल करने की शुरुआत कर रहे है।

नॉलेज शेयरिंग एग्रीमेंटनॉलेज शेयरिंग एग्रीमेंट

Live Share Market

विडिओ  न्यूज जरूर देखे 

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close