Trending

मनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांग

मनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांगमनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांग

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शराब घोटाले को अंजाम देने वाले मनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी मुख्यालय का घेराव किया।

मनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांग

उपराज्यपाल द्वारा दिल्ली सरकार द्वारा लागू नई आबकारी नीति के खिलाफ सीबीआई जांच की सिफारिश के बाद उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया जल्द जेल में होंगे।- चौ0 अनिल कुमार

नई दिल्ली, 23 जुलाई, 2022 – ( अर्श न्यूज़) – दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के नेतृत्व में भारी संख्या में मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिल्ली में हुए हजारों करोड़ के शराब घोटाले को अंजाम देने वाले उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांग को लेकर आज डीडीयू मार्ग स्थित आम आदमी पार्टी मुख्यालय का घेराव किया। दिल्ली पुलिस की दमनकारी नीति आज भी जारी रही, प्रदेश अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार सहित कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया।

मनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांग

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली में नियमों को ताक पर रखकर शराब नीति लागू करने वाले मनीष सिसोदिया को अरविन्द केजरीवाल तुरंत प्रभाव से पदमुक्त करें। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि कांग्रेस पार्टी पहले दिन से ही केजरीवाल की शराब नीति का विरोध कर रही है और शराब घोटाले की जांच की मांग को लेकर कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने केजरीवाल की शराब नीति में हुए भ्रष्टाचार की जांच कराने के लिए तत्कालीन उपराज्यपाल और पुलिस आयुक्त को लिखित शिकायत भी की थी। उन्होंने कहा कि यह प्रदेश कांग्रेस कमेटी की मांग का ही असर है कि उपराज्यपाल ने लागू शराब नीति में हुए भारी भ्रष्टाचार की सीबीआई द्वारा जांच की सिफारिश की है। उन्होंने कहा कि सच को छुपाया नहीं जा सकता सच यही है कि दिल्ली सरकार पूरी तरीके से भ्रष्टाचार में लिप्त हैं और सत्येन्द्र जैन के बाद न सिर्फ मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी होनी तय है बल्कि आने वाले समय में इन सबके मुखिया अरविन्द केजरीवाल भी सलाखों के पीछे होंगे।

मनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांग

प्रदर्शनकारियों में प्रदेश अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के अलावा पूर्व सांसद श्री रमेश कुमार, दिल्ली सरकार की पूर्व मंत्री प्रो0 किरण वालिया, पूर्व विधायक एवं प्रदेश उपाध्यक्ष जय किशन, प्रदेश उपाध्यक्ष मुदित अग्रवाल, कोषाध्यक्ष संदीप गोस्वामी, पूर्व विधायक चौ0 मतीन अहमद, विजय लोचव, कुंवर करण सिंह, अमरीश गौतम, राजेश जैन, दर्शना रामकुमार, वीर सिंह धींगान, अल्का लांबा, मालाराम गंगवाल, दिल्ली प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष रणविजय लोचव, प्रदेश सेवादल के मुख्य संगठक सुनील कुमार, डा0 नरेश कुमार, कम्युनिकेशन विभाग के वाईस चेयरमैन परवेज आलम और अनुज आत्रेय जिला अध्यक्ष गुरचरण सिहं राजू, मनोज यादव, राजेश चौहान, धर्मपाल चंदेला, विष्णु अग्रवाल, आदेश भारद्वाज, दिनेश कुमार, सतबीर शर्मा और मिर्जा जावेद अली, वरियाम कौर, लीगल एवं मानव अधिकार विभाग के चेयरमैन एडवोकेट सुनील कुमार, आईटी सेल चेयरमैन राहुल शर्मा, विक्रम लोहिया, जिला कॉआर्डिनेटर, ब्लाक अध्यक्ष, अग्रिम संगठन, सेल एवं विभागों के पदाधिकारी मौजूद थे।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि नई शराब नीति के तहत जहां एक कम्पनी को 2 जोन से अधिक लाईसेंस नही दिए जाने थे, केजरीवाल सरकार ने 4 जोन से अधिक के लाईसेंस आवंटित किए। Origin Appliances को जोन-14 व जोन-16 तथा NOVA गारमेंट को जोन-11, जोन-15, का लाईसेंसे दिया गया, जबकि Origin Appliances तथा NOVA गारमेंट OASIS ग्रुप की ही सिस्टर सेल कम्पनी है। उन्होंने बताया कि OASIS ग्रुप कंपनियां शराब की उत्पादक, होलसेलर और रिटेलर है, नई शराब नीति के तहत लाईसेंस देने में शर्तों का उलंघन किया है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने पंजाब चुनाव में फंड एकत्रित करने के मकसद से पजांब के पूर्व अकाली विधायक दीप मल्होत्रा OASIS तथा उनकी शैल कम्पनियों को दिया गया, जिसमें हजारों करोड़ का गैर-कानूनी लेन देन हुआ है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल द्वारा मनीष सिसोदिया को बेहद ईमानदार व्यक्ति बताना और कहना कि शराब घोटाले का मामला कोर्ट में टिक नही पाएगा, केजरीवाल की घबराहट का परिचय है। जब मुख्यमंत्री के मुख्य सचिव की रिपोर्ट में आबकारी नीतियों में खामियां पाई गई है तो उप मुख्यमंत्री को सीबीआई द्वारा झूठे मामले में फंसाने का केजरीवाल का बयान बेहद शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल शराब घोटाले से अनभिज्ञ नही है इसीलिए कह रहे है कुछ दिनों में मनीष सिसोदिया को गिरफ्तार भी किया जाऐगा क्यांकि उन्होंने सत्येन्द्र जैन की सच्चाई भी जानते थे इसलिए उन्होंने सत्येन्द्र जैन के लिए भी कहा था कि उन्हें गिरफ्तार किया जाऐगा।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि 32 जोन में विभाजित राजधानी में 849 ठेके खोलने की बोली निजी संस्थाओं और रिटेल लाईसेंस दिए गए और दिल्ली सरकार ने नियमों को ताक पर रखकर शराब माफिया के साथ मिलकर यह काम किया है। उन्होंने कहा कि शराब की दुकानों के साईज 150 स्कवायर फिट की जगह 500 स्क्वायर फिट करना, शराब पीने की कानूनी उम्र 25 से 21 करना, इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर इंडिपेंडेंट दुकानों और होटलों को 24 घंटे शराब बेचने की अनुमति देकर, शराब की होम डिलिवरी और शराब की दुकाने खोलने के तय दूरी के नियम की धज्जियां उड़ाने आदि भी जांच के दायरे के विषय है। उन्होंने कहा कि शराब नीति की सीबीआई जांच यदि तय समय और निष्पक्षता से होती है तो वह दिन दूर नही जब केजरीवाल भी जेल में होंगे।

 

Live Share Market

विडिओ  न्यूज जरूर देखे 

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close